ज्योतिषाचार्य पंडित विनोद चौबे

!!विशेष सूचना!!
नोट: इस ब्लाग में प्रकाशित कोई भी तथ्य, फोटो अथवा आलेख अथवा तोड़-मरोड़ कर कोई भी अंश हमारे बगैर अनुमति के प्रकाशित करना अथवा अपने नाम अथवा बेनामी तौर पर प्रकाशित करना दण्डनीय अपराध है। ऐसा पाये जाने पर कानूनी कार्यवाही करने को हमें बाध्य होना पड़ेगा। यदि कोई समाचार एजेन्सी, पत्र, पत्रिकाएं इस ब्लाग से कोई भी आलेख अपने समाचार पत्र में प्रकाशित करना चाहते हैं तो हमसे सम्पर्क कर अनुमती लेकर ही प्रकाशित करें।-ज्योतिषाचार्य पं. विनोद चौबे, सम्पादक ''ज्योतिष का सूर्य'' राष्ट्रीय मासिक पत्रिका,-भिलाई, दुर्ग (छ.ग.) मोबा.नं.09827198828
!!सदस्यता हेतु !!
.''ज्योतिष का सूर्य'' राष्ट्रीय मासिक पत्रिका के 'वार्षिक' सदस्यता हेतु संपूर्ण पता एवं उपरोक्त खाते में 220 रूपये 'Jyotish ka surya' के खाते में Oriental Bank of Commerce A/c No.14351131000227 जमाकर हमें सूचित करें।

ज्योतिष एवं वास्तु परामर्श हेतु संपर्क 09827198828 (निःशुल्क संपर्क न करें)

आप सभी प्रिय साथियों का स्नेह है..

मंगलवार, 27 दिसंबर 2011

अंधविश्वास के खिलाफ बगराना है अंजोर

अंधविश्वास के खिलाफ बगराना है अंजोर
रायपुर। छत्तीसगढ़ में तंत्र-मंत्र, टोना-टोटके नाम से बड़े पैमाने पर ठगी की घटनाएं हो रही है। हाल ही में 20 नाखून वाले कछुए की आड़ में लूट का मामला उजागर हुआ है। अंधविश्वास के खिलाफ जनजागरण के लिए अनु फिल्मस क्रिएशन्स के बैनर तले छत्तीसगढ़ी डिजीटल फिल्म अंजोर का निर्माण किया जा रहा है। फिल्म का निर्माण सबसे कम उम्र की फिल्म निर्मात्री अनुराधा प्रसाद द्वारा किया ...जा रहा है। इसका निर्देशन अब तक 36 डाक्यूमेंट्री फिल्म का निर्माण करने वाले तपेश जैन है। सत्य घटनाओं पर आधारित इस विषय प्रधान फिल्म में अनुराधा प्रसाद, बाबी राजपूत, सुधाकर सिंह, गजहंस ठाकुर अश्वनी बंजारे, प्रिय वर्षा, विजय धनकर, राजीव शर्मा, माखन महिलांगे, पीआर देवांगन, निशांत देशपांडे, अरूण यादव, धन्नू यादव आदि अभिनय कर रहे हैं। फिल्म में छत्तीसगढ़ में टोनही प्रताडऩा की घटनाओं को रोकने के लिए भी संदेश दिया गया है।
छत्तीसगढ़ के हाना, कविता और यहां के परिवेश को सम्मिलित कर फिल्म को मनोरंजक अंदाज में प्रस्तुत करने का प्रयास है। गीत संगीत कर्णप्रिय हैं और यहां की लोक संस्कृति भी इसमें सम्मिलित होगी। यह जानकारी अनुराधा प्रसाद ने दी।

कोई टिप्पणी नहीं:

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.