ज्योतिषाचार्य पंडित विनोद चौबे

!!विशेष सूचना!!
नोट: इस ब्लाग में प्रकाशित कोई भी तथ्य, फोटो अथवा आलेख अथवा तोड़-मरोड़ कर कोई भी अंश हमारे बगैर अनुमति के प्रकाशित करना अथवा अपने नाम अथवा बेनामी तौर पर प्रकाशित करना दण्डनीय अपराध है। ऐसा पाये जाने पर कानूनी कार्यवाही करने को हमें बाध्य होना पड़ेगा। यदि कोई समाचार एजेन्सी, पत्र, पत्रिकाएं इस ब्लाग से कोई भी आलेख अपने समाचार पत्र में प्रकाशित करना चाहते हैं तो हमसे सम्पर्क कर अनुमती लेकर ही प्रकाशित करें।-ज्योतिषाचार्य पं. विनोद चौबे, सम्पादक ''ज्योतिष का सूर्य'' राष्ट्रीय मासिक पत्रिका,-भिलाई, दुर्ग (छ.ग.) मोबा.नं.09827198828
!!सदस्यता हेतु !!
.''ज्योतिष का सूर्य'' राष्ट्रीय मासिक पत्रिका के 'वार्षिक' सदस्यता हेतु संपूर्ण पता एवं उपरोक्त खाते में 220 रूपये 'Jyotish ka surya' के खाते में Oriental Bank of Commerce A/c No.14351131000227 जमाकर हमें सूचित करें।

ज्योतिष एवं वास्तु परामर्श हेतु संपर्क 09827198828 (निःशुल्क संपर्क न करें)

आप सभी प्रिय साथियों का स्नेह है..

मंगलवार, 6 दिसंबर 2011

मिथुन राशि और उनका व्यक्तित्व

मिथुन राशि और उनका व्यक्तित्व
ज्योतिषाचार्य पं.विनोद चौबे, 09827198828, भिलाई, दुर्ग (छ.ग.)
मित्रों कल मैने वृषभ राशि के स्वभाव एवं कारकत्त्व के बारे में चर्चा की थी। आज उसी क्रम में मिथुन राशि की चर्चा करूंगा, तो आईए मिथुन राशि को समझने का प्रयास करते हैं...


मिथुन राशि का स्वामि बुध है । अत: मिथुन राशि में उत्पन्न जातक उदार, विनम्र एवं हास्य प्रवृत्ति के होते हैं । बुध के प्रभाव के कारण ऐसा जातक बुद्धिमान होता है , इनमें स्वाभिमान का भाव भी विद्यमान रहता है । मिथुन राशि का चिन्ह स्त्री- पुरुष का जोड़ा है । अत: इस राशि के लोग विपरीत लिंगी के प्रति सहज ही आकर्षित होते हैं । ऐसा व्यक्ति शास्त्र कर्म को जानने वाला, संदेश, वचन में निपुण, बातचीत में होशियार, चतुरबुद्धि, हास्य करने वाला विनोदी व दूसरों के भावों को आसानी से समझने वाला होता है ।
ये कार्यों को अत्यन्त ही सोच- समझकर सम्पन्न करते हैं । सरकार या उच्चाधिकारी से उनका संपर्क बना रहता है । भौतिक सुख- साधनों से सम्पन्न रहते हैं । संगीत एवं कला के प्रति इनकी रूचि रहती है तथा नवीन सिद्धांतों का प्रतिपादन करने में समर्थ रहते हैं । इसके अतिरिक्त गणित, लेखन या संपादन के क्षेत्र में इनको सफलता प्राप्त होती है । अत: इसके प्रभाव से आप शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ एवं संतुष्ट रहेंगे । आप बुद्धिमतापूर्वक अपने कार्यों को सम्पन्न करेंगे । स्वपरिश्रम एवं योग्यता से आपको भौतिक सुख- संसाधनों की प्राप्ति होगी तथा धनैश्वर्य से सुसम्पन्न होकर अपना जीवन व्यतीत करेंगे ।
यह द्विस्वभाव राशि है, अत: इस राशि वाले व्यक्ति प्रत्येक वस्तु के दोनों पहलुओं पर बहुत अच्छी तरह सोच- विचार कर फिर निर्णयात्मक कदम उठाते हैं । इस राशि के व्यक्तियों को क्रोध कम आता है, प्राय: ये शांत एवं गंभीर स्वभाव के होते हैं । यदि ये क्रोधित हो जाएं तो क्रोध शांत होने पर फिर पश्चाताप प्रकट करते हैं ढ्ढ इस राशि का चिन्ह 'गदा व वीणा सहित' पुरुष स्त्री की जोड़ी है, अत: इस राशि वाले व्यक्ति गान- वाद्य आदि कलाओं में रूचि रखते हैं ।
मिथुन राशि वाले लोगों पर संगत का असर ज्यादा होता है । बुरी संगत इन्हें बुरा बना देती है, वहीँ अच्छी संगत से यह अच्छे हो जाते हैं । ये लोग शीघ्र ही दूसरे लोगों के प्रभाव व आकर्षण केन्द्र में आ जाते हैं । ये इन राशि वालों की सबसे बड़ी कमजोरी है । बुध जिस गृह के साथ बैठता है उसका प्रभाव भी वैसा ही हो जाता है । उसी के अनुसार उसका रंग, चरित्र व स्वभाव हो जाता है ।
मित्रों के प्रति आपके मन में पूर्ण निष्ठा रहेगी तथा सरकारी कार्यों में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से अपना सहयोग प्रदान करेंगे । आपका व्यक्तित्व आकर्षक होगा तथा वाणी में भी मधुरता रहेगी । साथ ही शांत, विनम्र  एवं हास्य प्रवृत्ति के कारण अन्य जनों को प्रभावित तथा आकर्षित करने में समर्थ रहेंगे । कला एवं संगीत के प्रति आप रुचिशील रहेंगे । प्रयत्न के इस क्षेत्र में मान- प्रतिष्ठा भी प्राप्त हो सकती है । ऐसे व्यक्ति व्यापारिक बुद्धि के लोग होते हैं । लेखन, गणित, संपादन या व्यापार संबंधी कार्यों में आप उन्नति प्राप्त करके समाज में प्रतिष्ठित व्यक्ति के रूप में स्वयं को स्थापित करने में समर्थ रहेंगे ।
धर्म के प्रति भी आपके मन में श्रद्धा का भाव विशेष होगा, निष्ठापूर्वक आप धार्मिक कार्यकलापों को सम्पन्न करेंगे । साथ ही अवसरानुकूल सामाजिक जनों के मध्य उदारता तथा दानशीलता के भाव का भी प्रदर्शन करेंगे ई, फलत: सामाजिक प्रभाव तथा प्रतिष्ठा में वृद्धि होती रहेगी । मर्म के आप ज्ञाता होंगे तथा गूढ़ से गूढ़ विषय को हल करने में समर्थ होंगे ।
आपका व्यक्तित्व भी आकर्षक होगा । फलत: अन्य लोग आपसे प्रभावित तथा आकर्षित रहेंगे । जीवन में समस्त सांसारिक सुखों का उपयोग करने में आप सफल होंगे तथा धनैश्वर्य एवं वैभव से भी सुसम्पन्न रहेंगे । आप एक विद्वान पुरुष होंगे, फलत: अपनी विद्वता से समाज में मान- सम्मान एवं प्रतिष्ठा अर्जित करेंगे ।
व्यापार के प्रति आपकी विशेष रूचि होगी, इनके द्वारा आप धनवान एवं विख्यात होंगे । संगीत एवं कला में भी आप समयानुसार अपनी रूचि का प्रदर्शन करते रहेंगे ।आप सांसारिक ऐश्वर्य से युक्त होंगे तथा सामान्यतया आपका जीवन सुख एवं प्रसन्नता से युक्त ही रहेगा । इस प्रकार आप शांत, उदार, हास्य प्रवृत्तियुक्त एवं विद्वान पुरुष होंगे तथा जीवन के समस्त सुखों को अर्जित करके प्रसन्नता पूर्वक उनका उपयोग करेंगे ।
यदि आपका जन्म मिथुन राशि में 'मृगशिरा नक्षत्र' के 3,4 चरण (का, की) अक्षरों में है तो आपका जन्म 7 वर्ष की मंगल की महादशा में हुआ है । आपकी योनि- सर्प, गण- देव, वर्ण- शूद्र, युज्जा-पूर्व, हंसक- वायु, नाड़ी- मध्य, पाया- सोना और वर्ग- बिलाव है । इस नक्षत्र का प्राकृतिक स्वभाव विद्या अध्य्यनी और शिल्पी है । इस राशि वाले बालक बहुत ही चतुर व सुन्दर होते हैं ।ये प्राय: मध्यम कद के छरहरे बदन के एवं सोच- विचार कर खर्च करने वाले होते हैं । इनकी प्रगति में निरंतर बाधाएं आती रहती हैं तथा इनका जीवन परिवर्तनमय  रहता है । ये व्यक्ति "ष्टद्धड्डठ्ठद्दद्ग द्बह्य ष्द्धड्डह्म्द्व शद्घ द्यद्बद्घद्ग" के सिद्धांत का प्रतिपादन करने वाले होते हैं ।
यदि आपका जन्म मिथुन राशि में 'आद्रा' नक्षत्र के (कु, घ, ड़, छ) अक्षरों में है तो आपका जन्म 18 वर्ष की राहु की महादशा में हुआ है । आपकी योनि- श्वान, गण- मनुष्य, वर्ण- शूद्र, युज्जा-मध्य, हंसक- वायु, नाड़ी- आद्य, पाया- चांदी, प्रथम तीन चरण बिलाव एवं अंतिम चरण सिंह वर्ग का है । इस नक्षत्र में जन्मे जातक क्रय- विक्रय में निपुण होते हैं एवं इनमें संहारक शक्ति विशेष होती है ।
यदि आपका जन्म मिथुन राशि के 'पुनर्वसु' नक्षत्र के प्रथम तीन चरणों (के, को, हा) में हुआ है तो आपका जन्म 16 वर्ष की बृहस्पति की महादशा में हुआ है । आपकी योनि- मार्जार, गण- देव, वर्ण- शूद्र, युज्जा-मध्य, हंसक- वायु, नाड़ी- आद्य, पाया- चांदी, प्रथम दो चरण बिलाव एवं तृतीय चरण हिरन वर्ण का है । इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले व्यक्ति धन एकत्रित करने में निपुण होते हैं । अपनी इन्द्रियों व इच्छाओं पर इनका विशेष नियंत्रण होता है ।

मिथुन 2012 राशिफल

मिथुन: (का, की, कु, घ, ड:, छ, के, को, हा)

मिथुन जनवरी राशिफल- वक्‍त थोड़ा मुश्किल है. आप कार्यक्रमों के प्रति अरुचि महसूस करेंगे. . मेहनत के बावजूद फल नहीं मिलने से हताशा आपके मन में घर कर सकती है. अति विश्वास के एवज में आपको धोखा मिल सकता है.

मिथुन फरवरी राशिफल- किसी और की परेशानी में व्‍यर्थ की दखलंदाजी से बचें. कारोबार में धन का निवेश लाभकारी रहेगा. पारिवारिक जीवन में माहौल सुखद रहेगा. जब अपनी सोच काम न कर रही हो, तो किसी योग्‍य और विश्वास पात्र व्‍यक्ति की सलाह के अनुसार कार्य करना उचित रहेगा.

मिथुन मार्च राशिफल- अच्‍छा वक्‍त आने को है. शुभ संदेश जीवन में खुशियों की बौछार लेकर आएंगे. इस अच्‍छे समय का पूरा फायदा उठाएं. कमाई के नए साधन मिलेंगे. परिवार में सुख-शांति रहेगी. मन प्रसन्न रहेगा .व्‍यापारियों के लिए नए अवसर खुलेंगे.

मिथुन अप्रेल राशिफल- जीवन में कुछ अचंभित करने वाली घटनाएं होंगी. ऐसे वक्‍त में दोस्‍त आपके बहुत काम आएंगे. विद्यार्थी वर्ग को अपनी पढ़ाई के लिए काफी मेहनत करने की जरूरत होगी. कानूनी पचड़े भी परेशान कर सकते हैं. प्रॉपर्टी में निवेश करने से बचें.

मिथुन मई राशिफल- अगर आप मेहनत करें तो, तरक्‍की की नयी राहें खुल सकती हैं. बदलता मौसम सेहत खराब कर सकता है. माता- पिता से अनबन होने की संभावना है. घूमने-फिरने जाने से पहले घर की सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम करें. मनोरंजन पर अधिक धन खर्च करने से माहांत में आपको आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

मिथुन जुन राशिफल- परिवार के साथ वक्‍त बिताने का मौका मिलेगा. कहीं बाहर घूमने भी जा सकते हैं. शत्रु आपका अहित करने की ताक में हैं, सावधान रहें. परिवार में नयी खुशी आएगी. कुल मिलाकर यह महीना अच्‍छा ही फल देगा.

मिथुन जुलाई राशिफल- जिसका आप इंतजार कर रहे थे, वो लम्‍हा बस आपके दरवाजे पर दस्‍तक देने को है. पुराने मुकदमों से निजात मिलेगी. समय का सही इस्‍तेमाल करें. मनमांगी मुरादें पूरी होंगी. स्वाध्याय में रुचि बढ़ेगी. व्यापार चलेगा.

मिथुन अगस्त राशिफल- जीवन में कुछ नया होगा. सामाजिक स्‍तर पर आपके मान-सम्‍मान में इजाफा होगा. अधिकारी आपके काम से खुश होंगे. संतान का रवैया सहयोगात्‍मक रहेगा. व्यापार में सफलता मिलेगी.

मिथुन सितम्बर राशिफल- वक्‍त सिर्फ योजनाएं बनाने का नहीं, बल्कि उन पर अमल करने का है. अचानक किसी लंबी यात्रा पर जा सकते हैं. जीवन में नयी खुशी दस्‍तक देने को है. बाहें फैलाकर उसका स्‍वागत करें. एकाग्रचित्त होकर काम करें, सफलता अवश्‍य मिलेगी.

मिथुन अक्टूबर राशिफल- बस कुछ नया होने को है. कमाई के नए साधन खुलेंगे. प्रॉपर्टी में निवेश आपके लिए फायदेमंद रहेगा. आपकी संतान आपसे वक्‍त मांगती है, ज़रा उसका भी ध्‍यान रखें.

मिथुन नबम्बर राशिफल- इस महीने में सब कुछ मध्‍यम रहेगा. आर्थिक स्‍तर पर माहौल आपके अनुकूल नहीं है. मानसिक तौर पर आप परेशान रहेंगे. परिवार से बुरी खबर मिल सकती है.

मिथुन दिसम्बर राशिफल- प्रेम के लिए वक्‍त अच्‍छा है. महीने के अंत में अच्‍छा समाचार मिल सकता है. किसी पुराने मित्र से मुलाकात हो सकती है. खाली न बैठें. विदेश भी जा सकते हैं.
ज्योतिषाचार्य पं.विनोद चौबे, 09827198828, भिलाई, दुर्ग (छ.ग.)

कोई टिप्पणी नहीं:

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.