ज्योतिषाचार्य पंडित विनोद चौबे

!!विशेष सूचना!!
नोट: इस ब्लाग में प्रकाशित कोई भी तथ्य, फोटो अथवा आलेख अथवा तोड़-मरोड़ कर कोई भी अंश हमारे बगैर अनुमति के प्रकाशित करना अथवा अपने नाम अथवा बेनामी तौर पर प्रकाशित करना दण्डनीय अपराध है। ऐसा पाये जाने पर कानूनी कार्यवाही करने को हमें बाध्य होना पड़ेगा। यदि कोई समाचार एजेन्सी, पत्र, पत्रिकाएं इस ब्लाग से कोई भी आलेख अपने समाचार पत्र में प्रकाशित करना चाहते हैं तो हमसे सम्पर्क कर अनुमती लेकर ही प्रकाशित करें।-ज्योतिषाचार्य पं. विनोद चौबे, सम्पादक ''ज्योतिष का सूर्य'' राष्ट्रीय मासिक पत्रिका,-भिलाई, दुर्ग (छ.ग.) मोबा.नं.09827198828
!!सदस्यता हेतु !!
.''ज्योतिष का सूर्य'' राष्ट्रीय मासिक पत्रिका के 'वार्षिक' सदस्यता हेतु संपूर्ण पता एवं उपरोक्त खाते में 220 रूपये 'Jyotish ka surya' के खाते में Oriental Bank of Commerce A/c No.14351131000227 जमाकर हमें सूचित करें।

ज्योतिष एवं वास्तु परामर्श हेतु संपर्क 09827198828 (निःशुल्क संपर्क न करें)

आप सभी प्रिय साथियों का स्नेह है..

बुधवार, 24 अगस्त 2011

दीपक सोनी का चयन भारतीय प्रशासनिक सेवा में



संघ लोक सेवा आयोग द्वारा अखिल भारतीय स्तर पर आयोजित परीक्षा में छत्तीसगढ़ राज्य के जिला दुर्ग से भिलाई नगर के नेहरू नगर निवासी सतीश सोनी के सुपुत्र दीपक सोनी का चयन भारतीय प्रशासनिक सेवा के लिए किया गया है। सतीश सोनी (सिग्गड़) के सुपुत्र दीपक सोनी ने इस परीक्षा में अखिल भारतीय स्तर पर 120 वाँ रैंक तथा छत्तीसगढ़ राज्य में टॉप किया । दुर्ग सांसद सुश्री सरोज पांडेय ने दीपक सोनी को गुलदस्ता भेंट कर व मुह मीठा करवाकर बधाई दी और कहा कि भा.प्र.से. में चयनित होने से भिलाई नगर सहित पूरा छत्तीसगढ़ राज्य गौरवान्वित हुआ है। सांसद पांडेय ने कहा कि हमें नाज है दीपक सोनी के हौसले और जज्बे सहित ढेरों बधाई के हकदार हैं। दृढ़ निश्चय और कड़ी मेहनत करने वालों के लिए कोई भी लक्ष्य कठिन नहीं होता। दीपक सोनी के जज्बे से छत्तीसगढ़ के अन्य छात्र-छात्राओं को भी प्रेरणा मिलेगी।
दीपक ने अपनी सफलता का श्रेय दादी-दादा (ओमवती सोनी- महावीर सोनी ) माता-पिता (सुमन-सतीश सोनी) और जान से ज्यादा प्यारे भाई, सूरज सोनी सीए, चन्द्र सोनी सीए एवं समस्त परिवार के आर्शीवाद को दिया। दीपक ने कहा कि- सफलता पाने के लिए लगन से कर्म करना  जरूरी है पर सर्वाधिक जरूरी यह है कि आप उसे नित अमल में लाते हैं या नहीं , वे ही व्यक्ति महान एवं शक्तिशाली बनते हैं, जिन्हे अपने आप पर विश्वास होता है। उन्होंने कहा कि दूसरों को उपदेश देने की बजाय उपदेश को स्वयं पर आचरित करे हुए दृढ़ता से उस पर अमल करना बेहतर है । कुछ दिनों बाद ही आप स्वयं अनुभव करेंगे कि आप उन्नति की राह पर चल रहे हैं। समय को महत्व दें। समय को ध्यान में रखते हुए ही नीतियों का निर्धारण करना चाहिए। समय पर लागू की गई नीतियाँ अवश्य फलवती होंगी। अपने नकारात्मक विचारों पर काबू कीजिए। सकारात्मक सोचेंगे तो हकीकत खुद ब खुद समझ में आने लगती है और सब कुछ संभव प्रतीत होने लगता है अपने अर्जित ज्ञान को तभी स्थायी बनाया जा सकता है, जब उसका नित अभ्यास किया जाए। निरंतर अभ्यास से आप किसी भी विषय या कार्य में दक्ष हो सकते हैं। दीपक ने कहा कि अच्छा स्वास्थ्य एवं अच्छी समझ जीवन के दो सर्वोत्तम वरदान हैं, उन्हे अमल में लाइए। कुछ ही समय के बाद ये वरदान आप के हो जाएंगे। अंधविश्वासी एवं रूढि़वादी वे ही होते हैं, जो अज्ञानी होते हैं और सोच-विचार कर अर्थात अपनी बुद्धि का सही ढंग से इस्तेमाल नहीं करते हैं। जरा वैज्ञानिकता से सोचिए, जिज्ञासु बनिए सफलता के लिए यह अत्यंत जरूरी है। निराधार बातों का न तो समर्थन करें और न ही उन्हे अपनाएँ दीपक ने कहा हमारे माता-पिता मेरे लिए ईश्वर से कम नहीं है जिनकी बदौलत से ही मुझे ये मुकाम हासिल हुआ है। इस दौरान दुर्ग महापौर डॉ. शिवकुमार तमेर नगर निगम और नवीन जैन गणमान्य लोगों ने दीपक सोनी को बधाईयाँ दीं। दीपक का मानना है कि अगर आपके मन में देश सेवा एवं लोक सेवा की भावना और दृढ़ निश्चय हो, तो कोई भी लक्ष्य कठिन नहीं होता, दीपक कहते हैं कि ऐसे लक्ष्य को हासिल करने एवं सही दिशा दिखाने के लिए जीवन में प्रेरणास्त्रोत अत्यंत महत्वपूर्ण है।

कोई टिप्पणी नहीं:

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.