ज्योतिषाचार्य पंडित विनोद चौबे

!!विशेष सूचना!!
नोट: इस ब्लाग में प्रकाशित कोई भी तथ्य, फोटो अथवा आलेख अथवा तोड़-मरोड़ कर कोई भी अंश हमारे बगैर अनुमति के प्रकाशित करना अथवा अपने नाम अथवा बेनामी तौर पर प्रकाशित करना दण्डनीय अपराध है। ऐसा पाये जाने पर कानूनी कार्यवाही करने को हमें बाध्य होना पड़ेगा। यदि कोई समाचार एजेन्सी, पत्र, पत्रिकाएं इस ब्लाग से कोई भी आलेख अपने समाचार पत्र में प्रकाशित करना चाहते हैं तो हमसे सम्पर्क कर अनुमती लेकर ही प्रकाशित करें।-ज्योतिषाचार्य पं. विनोद चौबे, सम्पादक ''ज्योतिष का सूर्य'' राष्ट्रीय मासिक पत्रिका,-भिलाई, दुर्ग (छ.ग.) मोबा.नं.09827198828
!!सदस्यता हेतु !!
.''ज्योतिष का सूर्य'' राष्ट्रीय मासिक पत्रिका के 'वार्षिक' सदस्यता हेतु संपूर्ण पता एवं उपरोक्त खाते में 220 रूपये 'Jyotish ka surya' के खाते में Oriental Bank of Commerce A/c No.14351131000227 जमाकर हमें सूचित करें।

ज्योतिष एवं वास्तु परामर्श हेतु संपर्क 09827198828 (निःशुल्क संपर्क न करें)

आप सभी प्रिय साथियों का स्नेह है..

बुधवार, 12 दिसंबर 2012

''जिद करो दुनिया बदलो'' के धुन के होंगे आज के जन्मे बच्चे- पं.विनोद चौबे

  ''जिद करो दुनिया बदलो'' के धुन के होंगे आज के जन्मे बच्चे- पं.विनोद चौबे

 भारतीय धर्म शास्त्रों के अनुसार आंग्ल तिथियों के ऐसे संयोग को देखकर डिलेवरी कराना अथवा विवाह आदि मांगलिक कार्य कर सेलिब्रेट करना तो उचित नहीं है फिर भी ईश्वरेच्छा से जिन बच्चों का आज के दिन जन्म हुआ है आइए जानते हैं कि 12.12.12 के दिन जन्मे बच्चों की कुंडली के बारे में ज्योतिषाचार्य पं. विनोद  चौबे का क्या कहना है।
ग्रहों की स्थिति का आंकलन करने पर ज्ञात होता है इस दिन जन्म लेने वाले बच्चे की कुण्डली में सूर्य और चन्द्रमा दोनों ही राहु के साथ होंगे। यानी नवग्रहों के स्वामी सूर्य तथा चन्द्र दोनों को ही राहु का ग्रहण लगेगा। ऐसे में इस दिन जन्म लेने वाले बच्चे को जीवन में संघर्ष करना पड़ सकता है। साथ ही वैमनस्यकारी, आन्दोलनकारी तथा अपनी ही बात मनवाने लिए किसी भी हद तक कुछ भी कर गुजरने के लिए तैयार रहने वाले स्वभाव का रहता है, लेकिन शनि उच्च का होना इनके लिए थोड़ा लाभदायक रहेगा। लेकिन यहां भी स्थिति यही है कि  भाग्य इनका परिश्रम पर निर्भर करेगा। इन्हें जीवन में काफी उतार-चढ़ाव देखना पड़ सकता है।
साहसिक कार्य, सैन्य, सुरक्षा विंग में अहम स्थान प्राप्त करने वाला तथा अग्नि से संबंधित कार्य, भूमि एवं प्रोपर्टी से जुड़े कार्यों में इस दिन जन्म लेने वाले व्यक्ति अधिक सफल हो सकते हैं। वृश्चिक राशि होने की वजह से इस दिन जन्म लेने वाले बच्चे एक्टिव होंगे लेकिन स्वभाव से क्रोधी होंगे। इनमें बदला लेने की भावना होगी।  अग्नि तत्व के होने के कारण इनका सिर चौड़ा होगा और बाल लंबे होंगे और दिखने में ताम्रवर्ण के हो सकते हैं। यह हठी और ईष्यालु भी हो सकते हैं। कुल मिलाकर इन्हें चन्द्र (भगवान शिव ) की पूजा अर्चना तथा मोती रत्न धारण करना पड़ेगा ताकि इनका चित्त शांत रहे। शिक्षा के क्षेत्र में भी जिद करो दुनिया बदलो की भाँति काफी परिश्रम कर शिर्षस्थ पद को हथियाने का प्रयास करेंगे, यदि व्यापार करते हैं तो भी शिर्षस्थ  भूमि, मकान एवं कृषि के क्षेत्र में अग्रणी पायदान पर रहना ही पसन्द करेंगे।
-ज्योतिषाचार्य पं.विनोद चौबे, 09827198828 Bhilai

कोई टिप्पणी नहीं:

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.